सर्वधर्म सद्भावना सम्मलेन में गूंजेगा भाईचारे का सन्देश

सर्वधर्म सद्भावना  सम्मलेन  में गूंजेगा भाईचारे का सन्देश

रायपुर। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। देश की तरक्की तभी संभव है, जब देश में प्रेम, शांति की बयार अविरल बहती रहे। दुनिया भर में इस संदेश को पहुंचाने के लिए देश में एकता और अखंडता का मजबूत होना बेहद जरूरी है। इसी उद्देश्य को लेकर राजधानी रायपुर में 17 मार्च को दीनदयाल उपाध्याय ओडिटोरियम में सभी धर्मों के लोग एक साथ, एक मंच पर जुड़ेंगे सर्व आस्था मंच के माध्यम से।

वीडियो यहाँ देखे:-



सर्व आस्था मंच के वाईस प्रेसिडेंट फैजल रिज़वी ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में सभी धर्मों के प्रति सम्मान रखने वाले नागरिकों का एक खुला मंच का गठन करीब 3 साल पहले किया गया था। इसका उद्देश्य भाई-चारे को बढ़ावा देना ही नहीं बल्कि समाज सेवकों को ढूंढता है जिन्हें कोई नहीं जानता, वे जो खामोशी से समाज की सेवा में लगे रहते हैं, ऐसे लोगों को सम्मानित करती है। सर्व धर्म सम्मेलन संप्रदायिकता देश में धार्मिक सुधार के लिए लगातार काम कर रही है।

उन्होंने कहा की राजनीतिक से प्रेरित होकर पिछले कुछ दिनों से भारत की छेड़ते, बिगड़ते धार्मिक सद्भाव सांप्रदायिक सौहार्द की स्थिति दोस्तों में दुश्मनी धार्मिक नफरत जातिवाद को बढ़ावा दिया है जिससे आज बड़े बड़े दंगे हो रहे हैं बड़े, बूढ़े, क्या जवान, बच्चे तक आपसी प्रेम मानवता एकता धार्मिक सद्भाव भूल रहे हैं और हमारे अखंड भारत की पहचान विदेश में धूमिल कर रहे है।

Share it
Top