तलाक की अर्जी पर बोले तेजप्रताप- घुट-घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं

तलाक की अर्जी पर बोले तेजप्रताप- घुट-घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं

गया : कोर्ट में पत्नी से तलाक की अर्जी देने के बाद तेज प्रताप यादव अपने पिता से मिलने गया से रांची जा रहे हैं. इस बीच तेजप्रताप यादव ने पहली बार मीडिया के सामने अपने और ऐश्वर्या को लेकर बड़ा बयान दिया है.

लालू यादव के बड़े बेट तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी के छह महीने के अंदर ही तलाक की बात सामने आने के बाद सभी सकते में हैं. लाख कोशिश के बाद आखिरकार तेजप्रताप नहीं माने. मीडिया से बातचीत में तेजप्रताप ने कहा कि ये सच है कि हमने तलाक की अर्जी दी है. हम घुट-घुटकर नहीं जी सकते. तेजप्रताप ने कहा कि वो इस मामले पर अपने पिता लालू यादव से बात करने रांची जा रहे हैं.

नहीं माने तेज प्रताप

बता दें कि तेज प्रताप यादव की तलाक की अर्जी के बाद दोनों परिवार में रिश्ते को बचाने का सिलसिला जारी था. तेज प्रताप के ससुर चंद्रिका राय रातभर इस कोशिश में लगे रहे कि दामाद मान जाए लेकिन तेजप्रताप के बयान से ये साफ हो गया है कि उन्हें मनाने की सारी कोशिश नाकाम हो गई है.

29 नवंबर को सुनवाई

अब 29 नवंबर को इसकी सुनवाई भी होने वाली है. हालांकि जानकारों की मानें तो तेजप्रताप ने भले ही तलाक के लिए अर्जी दे दी हो. लेकिन हिंदू मैरेज एक्ट के प्रावधानों के अनुसार, तलाक के लिए कम से कम शादी की अवधि एक साल तक होनी चाहिए. बहुत कम ऐसे मामले हैं, जिनमें एक साल के पहले तलाक हुए हैं. तेजप्रताप ने तलाक की अर्जी में पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है.

Share it
Top