DNA पर बिहार में सियासी घमासान, RJD ने मांगी रिपोर्ट

DNA पर बिहार में सियासी घमासान, RJD ने मांगी रिपोर्ट

बिहार । लोकसभा 2019 चुनाव के पहले एक बार फिर डीएनए का मुद्दा गर्माने लगा है. डीएनए के मुद्दे पर कभी नीतीश कुमार का साथ देने वाली राजद ने अब रिपोर्ट मांगना शुरू कर दिया है. वहीं बिहार के कार्यकर्ता चुनावों की तैयारियों में तेजी से जुटे हैं.

2015 के चुनाव में भाजपा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के डीएनए का मुद्दा जोर-शोर से उठाया था और तब राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने इसे चुनावी मुद्दा बनाते हुए भाजपा को जमकर कोसा था. वहीं राजद अब नीतीश कुमार के डीएनए का रिपोर्ट मांग रही है .

कहा हैं रिपोर्ट

राजद के मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा है कि नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी के नेताओं के नाखून और बाल भिजवाए थे. बिहार की जनता जानना चाहती है कि डीएनए जांच के लिए जो नाखून और बाल भेजे गए थे, उसका रिपोर्ट आया कि नहीं? भाई वीरेंद्र ने कहा कि बिहार की जनता जानना चाहती है कि उस रिपोर्ट की हकीकत क्या है?

कांग्रेस ने क्या कहा

डीएनए के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी के विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा है कि जो डीएनए का मुद्दा आज उठा रहे हैं, वह उनके साथ ही हैं. सदानंद सिंह ने कहा है कि राजनीति में ऐसे मुद्दों का कोई मतलब नहीं होता.

बीजेपी की प्रतिक्रिया

बीजेपी प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने पूरे मसले पर कहा है कि डीएनए का मुद्दा अब मुद्दा नहीं रह गया है. पुरानी बातों को भूल कर नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी विकास के रास्ते पर चल रहे हैं. दोनों नेता मिलकर बिहार और देश को आगे बढ़ने के लगे हैं.

Share it
Top