शराब की अवैध कमाई से कांग्रेस को हो रही है लोकसभा चुनाव की फंडिंग: भाजपा

शराब की अवैध कमाई से कांग्रेस को हो रही है लोकसभा चुनाव की फंडिंग: भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर शराब की अवैध बिक्री, प्रिंट रेट से अधिक मूल्य में शराब विक्रय कर कांग्रेस पार्टी के लिए लोकसभा चुनाव में फंडिंग करने का आरोप लगाया है। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता व विधायक शिवरतन शर्मा ने शराब विक्रय में राज्य सरकार पर प्रिंट रेट से अधिक मूल्य पर शराब बेचने और अवैध कमाई से कांग्रेस पार्टी के लिए फंडिंग कर लोकसभा चुनाव में राजनीतिक इस्तेमाल का गंभीर आरोप लगाते हुए जमकर निशाना साधा है। उन्होंने सरकार पर 200 करोड़ महीना की अवैध कमाई का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में शराब को लेकर जो रेट चार्ट है उससे अधिक मूल्यों पर शराब का विक्रय कर राज्य सरकार अंतर की राशि से प्राप्त अवैध कमाई से सीधे कांग्रेस पार्टी के लिए फंड एकत्रित कर रही है।

शराबबंदी का झूठा वादा करके सरकार में आई भूपेश बघेल की यह सरकार वादाखिलाफी करते हुए शराब के अलग-अलग ब्रांड पर तय मूल्य से अधिक राशि वसूले का काम कर रही है। कांग्रेस की इस सरकार में ना सिर्फ शराब से अवैध कमाई का गोरख धंधा चल रहा है अपितु इस गोरख धंधे की कमाई को लोकसभा चुनाव के फंडिंग के दृष्टिकोण से और अधिक उगाही के लिए सरकार के संरक्षण में कोचियों को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने ही नियम बनाया है कि एक व्यक्ति को 4 बॉटल से अधिक शराब नहीं देंगे और सरकार के संरक्षण में ही कोचियों को पेटी के पेटी शराब देकर उनसे अवैध कमाई कर कांग्रेस पार्टी की लोकसभा चुनाव में फंडिंग करने बढ़ावा दिया जा रहा है।


श्री शर्मा ने मीडिया से कहा कि आज आप प्रदेश के किसी भी दुकान में जाकर इन तमाम तथ्यों की जांच कर सकते है, शराब के तमाम ब्रांड तय मूल्यों से अधिक में आपको प्राप्त होंगे। गांव-गांव में कोचियों के माध्यम से शराब की उपलब्धता सहज उपलब्ध है।

Share it
Top