रांची में MS Dhoni पवेलियन का उद्घाटन करने से किया मना, दिया दिलचस्प जवाब

रांची में MS Dhoni पवेलियन का उद्घाटन करने से किया मना, दिया दिलचस्प जवाब

पटना/रांची: यह सभी जानते हैं कि महेंद्र सिंह धोनी सरल व्यक्तित्व के धनी हैं. खेल के मैदान पर और इसके बाहर कई बार इसकी मिसाल देखने को मिल चुकी है. पिछले मैच के दौरान ही जब एक प्रशंसक धोनी के पैर छूने के लिए मैदान पर आगे बढ़ा, तो वे उससे दूर भागते नजर आए. अब एक और ऐसी ही वजह सामने आई है, जिसके लिए एमएस धोनी के प्रशंसक मुरीद रहे हैं.

धोनी ने बुधवार को अपने गृहनगर रांची के जेएससीए स्टेडियम में उनके नाम पर रखे गए पवेलियन का उद्घाटन करने से विनम्रता से इंकार कर दिया. इस मैदान पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार को तीसरा वनडे खेला जाना है.

कई खिलाड़ियों के नाम पर स्टैंड

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सुनील गावस्कर स्टैंड है. इसी तरह दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में वीरेंद्र सहवाग गेट है. इसी की तर्ज पर झारखंड राज्य क्रिकेट एसोसिएशन ने अब जेएससीए स्टेडियम में महेंद्र सिंह धोनी पवेलियन बनाया है. भारत में तो फिर भी खिलाड़ियों के नाम पर पवेलियन या स्टैंड बनाने की परंपरा कम है. वेस्टइंडीज और इंग्लैंड में यह परंपरा ज्यादा है.

धोनी ने कहा- दादा अपने ही घर में क्या उद्घाटन करना

जेएससीए के सचिव देबाशीष चक्रवर्ती ने बुधवार को कहा, 'पिछले साल एजीएम में नार्थ ब्लॉक का नामकरण धोनी के नाम पर करने का फैसला किया गया था.' धोनी हालांकि इसका उदघाटन करने के लिये तैयार नहीं हुए हैं. चक्रवर्ती ने कहा, 'हमने धोनी से आग्रह किया था. लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया. धोनी ने कहा कि दादा अपने ही घर में क्या उद्घाटन करना. यह बताता है कि धोनी अब भी पहले की तरह विनम्र हैं.'

अपने गृहनगर रांची में होगा अंतिम मैच !

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच धोनी का अपने गृहनगर में अंतिम मैच हो सकता है. जेएससीए के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि उन्होंने इसके लिए कोई विशेष योजना नहीं बनाई है. भारत मौजूदा वनडे सीरीज में 2-0 से आगे है. अगर भारत शुक्रवार को तीसरा वनडे जीत लेता है, तो वह सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त ले लेगा. धोनी अब तक 340 वनडे मैच खेल चुके हैं. उन्होंने इनमे से तीन मैच रांची के जेएससीए स्टेडियम में खेले हैं.

Share it
Top