बिहार की 3 बेटियों की एशियन गेम्स में होगी एंट्री, मिल रही बधाईयां

बिहार की 3 बेटियों की एशियन गेम्स में होगी एंट्री, मिल रही बधाईयां

कटिहारः बिहार की 3 बेटियों ने सेपक टाकरा गेम में धमाल मचाया है. यहां की 3 खिलाड़ियों का सेपक टकरा जूनियर चैंपियनशिप में चयन हुआ है. इसके साथ ही कटिहार की खुशी के लिए एशियन गेम्स के लिए दरवाजा खुल गया. सेपक टाकरा खेल के जूनियर चैंपियनशिप का प्रशिक्षण शिविर महाराष्ट्र के औरंगाबाद में होगा.

बताया जाता है कि पूरे भारत से 40 खिलाड़ियों में से 18 खिलाड़ियों का 2019 एशियन गेम्स के लिए चयन होगा. 2019 में फिलीपींस में होने वाले एशियन गेम्स में बिहार की बेटियों के लिए भाग लेने का रास्ता साफ हो गया है. सब जूनियर सेपक टकरा चैंपियनशिप के लिए बिहार की तीन खिलाड़ियों का चयन किया गया है. इसमें कटिहार से खुशी कुमारी, पटना से आरती कुमारी, और स्नेहा वर्मा का चुनाव किया गया है.

परिवार और पड़ोस में जश्न

कटिहार की खुशी कुमारी का चयन होने के बाद उनके परिवार और आस पड़ोस में जश्न का माहौल है. खुशी कुमारी ने ईटीवी भारत को बताया कि सेपक टाकरा सब जूनियर चैंपियनशिप में चयन होना उसकी मेहनत का फल है. वह लगातार इस खेल में ढेड़ वर्षों से अपना पूरा समय इस खेल को दे रही थी. खुशी बताती है कि यह 2018 में उड़ीसा में खेले गए राष्ट्रीय जूनियर चैंपियनशिप में हुए अच्छे प्रदर्शन का फल है कि उसे एशियन गेम्स के प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन किया गया है.

महाराष्ट्र में होगा प्रशिक्षण

जनवरी-फरवरी 2019 महाराष्ट्र के औरंगाबाद में चलने वाले प्रशिक्षण शिविर में भाग लेने वाले पूरे भारत के 40 खिलाड़ियों को टीम जा रही है. यहां से 18 खिलाड़ियों का चयन एशियन गेम्स के लिए किया जाएगा.

बेटी के बेहतरीन प्रदर्शन पर उनकी मां बताती है कि वह लगातार ढेड़ वर्षों से इस खेल में मेहनत कर रही थी. वह चाहती है कि खुशी का चयन एशियन गेम्स के लिए हो और मेडल जीतकर वह पूरे भारत का नाम रोशन करे.

कोच का क्या है कहना

वहीं, खुशी के कोच सोनू कुमार ने कहा कि खुशी उनके मार्गदर्शन में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रही थी. सभी जगह खेले गए खेलों में मेडल जीतकर आई है. उम्मीद है, इस प्रशिक्षण शिविर के जरिए एशियन गेम्स में चयन हो और भारत के लिए मेडल जीतकर लाए. कोच सोनू कुमार ने बताया अभी वह बिहार के सरकारी नौकरी में है. इस सेपक टाकरा खेल के जरिए उन्हें बिहार में सरकारी नौकरी मिली है।

क्या है सेपक टाकरा गेम

दरअसल, सेपक टाकरा वॉलीबॉल, फुटबॉल और जिमनास्टिक का मिश्रण है. यह भारत के नॉर्थ ईस्ट का प्रसिद्ध खेल है. इस खेल को इंडोर हॉल 20 x 44 के आकार की जगह में सिंथेटिक फाइबर के गेंद से खेला जाता है. खुशी के कोच ने बताया पिछले राष्ट्रीय खेल में भारत ने सेपक टाकरा में पुरुष टीम ने ब्रॉन्ज लाया. वहीं, महिला टीम ने गोल्ड पर कब्जा जमाया था.

Share it
Top