पिता को टिकट देने का दबाव बना रही थी ऐश्वर्या, कहती थी - वरना शादी का क्या फायदा'

पिता को टिकट देने का दबाव बना रही थी ऐश्वर्या, कहती थी - वरना शादी का क्या फायदा

पटना : शादी के बाद से ही लालू प्रसाद के बेटे तेजप्रताप के संबंध पत्नी ऐश्वर्या राय के साथ अच्छे और सहज नहीं रहे हैं। एक सितंबर के बाद से दोनों अलग-अलग रह रहे हैं। पटना सिविल कोर्ट में ऐश्वर्या से तलाक की दी गई अर्जी में तेज प्रताप ने गंभीर आरोप लगाए हैं. तेज ने अपनी अर्ज़ी में लिखा कि ऐश्वर्या उनपर अपने पिता चंद्रिका राय को छपरा से लोकसभा टिकट दिलवाने का दबाव बना रही थीं.

तलाक की अर्जी के मुताबिक ऐश्वर्या तेज से कई बार बोल चुकी हैं कि यदि मेरे पिता को छपरा से टिकट नहीं मिलेगा तो मेरी शादी तुम्हारे साथ होने से क्या फायदा?

तेजप्रताप ने तलाक की अर्जी में 12 मई को शादी के बाद से लेकर एक सितंबर तक ऐश्वर्या के साथ अपने संबंधों में उतार-चढ़ाव का ब्योरा दिया है और मानसिक प्रताडऩा समेत कई तरह के आरोप लगाए हैं। कुछ आरोप ऐसे भी हैं, जिन्हें हम नारी सम्मान का ख्याल करते हुए प्रकाशित नहीं कर सकते हैं।

तलाक के लिए तेजप्रताप की ओर से कोर्ट में तीन सेट में आवेदन दिए गए हैं। पहला हिन्दू विवाह अधिनियम की धारा 13 (1)(1ए) जो तलाक के लिए है। दूसरा आवेदन धारा 14 (1) के तहत दिया गया है, जिसमें शादी के एक वर्ष के अंदर तलाक की मांग की गई है। इसमें तलाक के लिए पर्याप्त आधार भी तैयार किया गया है।

तेजप्रताप द्वारा तीसरा आवेदन धारा-22 के तहत दिया गया है, जिसमें कहा गया है कि अदालत में सुनवाई की प्रक्रिया बंद कमरे में पूरी की जाए और कार्यवाही प्रकाशित नहीं की जाए। आवेदन में कहा गया है कि ऐश्वर्या एक सितम्बर से उनसे अलग रह रही हैं। तलाक क्रूरता के आधार पर मांगा गया है।

धार्मिक प्रवृति के तेजप्रताप ने दिल्ली विश्वविद्यालय से पढ़ी-लिखी ऐश्वर्या पर पाश्चात्य सभ्यता के अनुकरण का आरोप लगाया है। कहा है कि मेरा मन जहां भजन-कीर्तन में लगता है, वहीं ऐश्वर्या को इन सबसे नफरत है। वह पश्चिमी गाना पसंद करती हैं।

दीदी मीसा की बात पर तुनक गई थी ऐश्वर्या

अदालत में दी गई अर्जी के मुताबिक तेजप्रताप की बड़ी बहन मीसा भारती ने एक बार किसी बात पर सलाह दी तो ऐश्वर्या ने बुरा मान लिया। उन्होंने पलटकर कहा कि वह कौन होती हैं सलाह देने वाली? ऐश्वर्या पर तेजप्रताप ने अपने परिवार को अपमानित करने का भी आरोप लगाया है। अर्जी में कहा गया है कि ऐश्वर्या तेजप्रताप के परिवार का आदर नहीं करती हैं। अगस्त में जब तेज ने भगवा वस्त्र पहने तो सबके सामने ऐश्वर्या ने उसकी खिल्ली उड़ाई।

दोनों भाइयों में लड़वाना चाहती है वह

ऐश्वर्या पर तेजप्रताप ने भाइयों में लड़ाने का आरोप भी लगाया है। अर्जी के मुताबिक ऐश्वर्या हमेशा तेजप्रताप से कहा करती थी कि तुम्हारा छोटा भाई (तेजस्वी) तुमसे (तेज) जलता है। दो जून को कहा कि तुम्हारे यहां सारे के सारे गंवार हैं। 9 जून और 11 जून को दोनों में झगड़ा हुआ। पानी फेंक दिया और मारपीट की। जुलाई और अगस्त में भी झगड़ा किया।

ऐश्वर्या पर तेजप्रताप ने भाइयों में लड़ाने का आरोप भी लगाया है। अर्जी में कहा गया है कि ऐश्वर्या अदालती मामलों में फंसाने की धमकी भी देती है। कहती हैं कि उनका भाई पटना हाईकोर्ट में वकील है। जब पति-पत्नी मुंबई के अस्पताल में लालू प्रसाद को देखने गए थे तो ताज होटल में ठहरे थे। वहां भी ऐश्वर्या ने अपने पिता के लिए छपरा संसदीय सीट से टिकट दिलवाने को कहा था।


Share it
Top