केंद्रीय मंत्री राजेन गोहेन, कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव पर प्राथमिकी, भड़काऊ बयानबाजी के आरोप

केंद्रीय मंत्री राजेन गोहेन, कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव पर प्राथमिकी, भड़काऊ बयानबाजी के आरोप

असम: तिनसुकिया कांड में पुलिस ने केंद्रीय मंत्री राजेन गोहेन, कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव और चार अन्य नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. इनके खिलाफ दो समुदायों में दरार पैदा करने के मकसद से भड़काऊ बयान देने का आरोप है.

इस संबंध में पुलिस ने कहा कि एक्स-उल्फा यूनाइटेड प्लैटफॉर्म की बराक इकाई के महासचिव इनामुल हक लश्कर की ओर से सिलचर सदर पुलिस थाने में शिकायत दाखिल की गई थी.

इनके खिलाफ दर्ज हुई प्राथमिकी

वहीं, रेल राज्य मंत्री राजेन के अलावा भाजपा विधायक शिलादित्य देव, पार्टी के नेता प्रदीप दत्ता राय, कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव, पार्टी विधायक कामलख्या डे पुरकायस्थ और चंदन सरकार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

FIR में किसी खास बयान का जिक्र नहीं

गौरतलब है, इन नेताओं के खिलाफ दर्ज की गई प्राथमिकी में किसी खास बयान का जिक्र नहीं किया गया है लेकिन आरोप है कि उन्होंने कई मौकों पर भड़काऊ बयान दिए.

ये है पूरा मामला

आपको बता दें, गुरुवार शाम को असम के तिनसुकिया में धोला पुलिस थाने के तहत आने वाले खेरोनिबाड़ी गांव में पांच बंगाली भाषी लोगों की हत्या कर दी गई थी. इनमें तीन मृतक एक ही परिवार के सदस्य थे.

मुख्यमंत्री ने इन्हें माना जिम्मेदार

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने इन हत्याओं के लिए कुछ लोगों और संगठनों के भड़काऊ बयानों को जिम्मेदार माना था. इससे पहले, असम विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवव्रत सैकिया ने सोमवार को तिनसुकिया हत्याकांड की न्यायिक जांच कराने की मांग की.

Share it
Top