SUN STAR EXCLUSIVE : संघ में नब्बे प्रतिशत लोग लोग बेईमान ----- बंसीलाल महतो

SUN STAR EXCLUSIVE : संघ में नब्बे प्रतिशत लोग लोग बेईमान ----- बंसीलाल महतो

रायपुर। क्या सत्ता ने भाजपा एवं इसकी मातृ संस्था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का चाल, चरित्र और चेहरा बदल डाला है। भाजपा नेताओं के कहे - सुने को माने तो यह कहना पड़ेगा कि... हां यह सच है। एक स्टिंग ऑपरेशन में कोरबा के भाजपा सांसद डॉ बंशीलाल महतो ने इस आशय की बात कही है। वे कहते हैं कि संघ में 90 फ़ीसदी लोग बेईमान है।

एक समय था जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के डंडे के आगे भाजपा के दिग्गज चेहरे तक कांपा करते थे। उस की वक्र दृष्टि से अच्छे-अच्छे भाजपाइयों की पेंट गीली हो जाया करती थी। पर सत्ता सुख के लंबे काल में लगता है, सब कुछ बदल गया है। संघ का चेहरा एक कमरे और आम भारतीय संस्कृति से अलग हटकर पंच सितारा संस्कृति में बदल सा गया है। प्रभाव का यह हाल है कि अब संघ का भाजपाई भी नहीं सुन रहे। भाजपाइयों की नौकरशाह नहीं सुन रहे और शायद संभव है, भाजपा की आने वाले समय में जनता भी नहीं सुनेगी। सनस्टार के स्टिंग ऑपरेशन में यही बात सामने आई है। इस ऑपरेशन में कोरबा के सांसद बंशीलाल महतो की जुबान से जो कुछ निकला है, वह सन्न कर देने वाला है।

Watch Video Here :


स्टिंग ऑपरेशन में सांसद बंशीलाल महतो कह रहे हैं कि इमेज तो खराब हुआ है, इसमें कोई दो मत नहीं है। वे कहते हैं कि मोदी जी क्या कर रहे हैं ,चाहे यह सब फर्जी रहे। आखिर उनके पास तो चला गया है। वे कहते हैं कि सांसद का तो कुछ नहीं चल रहा। वह स्वीकार करते हैं कि कलेक्टर भी उनकी नहीं सुनता। सांसद ने कहते हैं कि मोदी का ग्राफ 2 फ़ीसदी गिर गया है। पहले उनकी लोकप्रियता 53 फ़ीसदी थी वह 5% गिरकर 48 पर आ गया है। प्रधानमंत्री मोदी को लक्ष्य करते हुए वे कहते हैं कि आप उत्तर प्रदेश और गुजरात से भरे जा रहे हो। टेढ़ा - मेढ़ा जैसा भी आदमी हो उसे भर दिया।

सांसद कहते हैं कि यह भूल है कि संघ के लोग चुनाव जीताते हैं। उनके पास तो 5 वोट भी नहीं है। वे संघ के सेवा भाव से भी इनकार करते हुए कहते हैं कि संघ कुछ नहीं करता है। दो रुपया, चार रुपए किलो चावल में बिक जाते हैं। सांसद बताते हैं कि कोई आदमी अपने ट्रांसफर के लिए संघ के पास जाता है। सुबह उनके पास संघ के प्रमुख का फोन आ जाता है की वह आदमी संघ का स्वयंसेवक है। व्यंग से वह बताते हैं कि उसका जन्म पत्री जानने वाले सांसद को वह यह सब बताएंगे। वे कहते हैं कि संघ के पास जाकर कोई सच्चरित्र हो जाएगा ,ऐसा नहीं है। वहां के 90 फ़ीसदी लोगों को मैं जानता हूं, बेईमान है।

Share it
Top