प्रियंका और सिंधिया के लखनऊ पहुंचने से पहले ही 60 लाख वोटरों तक पहुंच गई उसकी आवाज़

प्रियंका और सिंधिया के लखनऊ पहुंचने से पहले ही 60 लाख वोटरों तक पहुंच गई उसकी आवाज़

यूसुफ़ अंसारी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मंशा के मुताबिक कांग्रेस उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंकने में जुट गई है। सोमवार को राहुल गांधी प्रियंका गांधी वाड्रा और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ लखनऊ पहुंच रहे हैं। लेकिन इससे पहले ही पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी और पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रभारी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के रिकॉर्डैड मैसेज उत्तर प्रदेश के 60 लाख लोगों को भेजे गए हैं। पहले से रिकॉर्ड किए गए इन संदेशों में दोनों महासचिवों ने उत्तर प्रदेश के युवा और महिला, और कमजोर तबकों से कांग्रेस के साथ जुड़कर नई राजनीति को मजबूत करने और प्रदेश के हालात बदलने की गुजारिश की है।

सरल और सहज है प्रियंका का संदेश

कांग्रेस के डाटा एनालिसिस विभाग के चेयरमैन प्रवीण चक्रवर्ती के मुताबिक पूर्वी उत्तर प्रदेश के 30 लाख वोटरों तक प्रियंका गांधी वाड्रा का रिकॉर्डेड संदेश भेजा गया है। 33 सेकंड के इस संदेश में प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रदेश के युवा, महिला और कमजोर तबकों से पार्टी के साथ जुड़ने की अपील की है। यह संदेश प्रियंका गांधी के चीर परिचित सहज और सरल भाषा में है। प्रियंका पूर्वी उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से इस तरह बात कर रही हैंं।

'नमस्कार,

मैं प्रियंका गांधी वाड्रा बोल रही हूं। आप सब से मिलने के लिए मैं लखनऊ आ रही हूं और मेरे दिल में आशा है कि हम सब मिलकर एक नई राजनीति की शुरुआत करेंगे। एक ऐसी राजनीति जिसमें आप सब भागीदार होंगे। मेरे युवा दोस्त, मेरी बहने और सबसे कमजोर व्यक्ति सब की आवाज सुनाई देगी। आइए, मेरे साथ मिलकर नई राजनीति का निर्माण करें। धन्यवाद।'

सिंधिया के संदेश में शाही अंदाज

प्रवीर चक्रवर्ती के मुताबिक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में तीस लोगों को वहां के प्रभारी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का रिकॉर्ड मैसेज भेजा गया है। 21 सेकंड के इस संदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने शाही अंदाज में उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से कांग्रेस के साथ जुड़कर बदलाव लाने की अपील कर रहे हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से सिंधिया ने कुछ इस अंदाज में बात की है।

'नमस्कार,

मैं ज्योतिरादित्य सिंधिया बोल रहा हूं। कल मैं आपके बीच उत्तर प्रदेश आ रहा हूं। उत्तर प्रदेश के युवा को भविष्य का रास्ता चाहिए और प्रदेश को बदलाव चाहिए। आइए, हमारे साथ जुड़कर उत्तर प्रदेश में बदलाव लाइए। धन्यवाद, जय हिंद।'

उत्तर प्रदेश में पूरा दमखम दिखाना चाहती है कांग्रेस

आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उत्तर प्रदेश में कितनी सीटें जीती है इसे उसे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन वह पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ना चाहती है। हाल ही में कांग्रेस महासचिवों और राज्यों के स्वतंत्र प्रभारियों की बैठक में राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोनों को प्रदेश की सभी 80 सीटों पर पूरी ताकत से चुनाव लड़ने और आक्रामक चुनाव अभियान की हिदायत दी थी। साफ संदेश था कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का परचम फहराने तक उन्हें पूरी मेहनत करनी चाहिए। इसी के जवाब में प्रियंका गांधी ने कहा था कि जब तक उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की विचारधारा का परचम नहीं फहरता तब तक वो चैन से नहीं बैठेंगी और पार्टी के लिए वो कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैंं।

उत्तर प्रदेश के दौरे से पहले प्रदेश के 60 लाख लोगों को प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया की आवाज में रिकॉर्डेड संदेश भेजकर कांग्रेस ने यह साफ कर दिया है कि अब वह चुनाव में सोशल मीडिया के सारे औज़ार अपनाएगी। शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सभी प्रदेश अध्यक्षों और विधायक दल के नेताओं की बैठक में सोशल मीडिया के ज़्यादा इस्तेमाल पर जोर दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष और प्रदेश के दोनों महासचिवों के 20 घंटे पहले दोनों के संदेश को भेजकर कांग्रेस ने उन्हें अपनी तरफ खींचने की कोशिश शुरू कर दी है। इसमें उसे कितनी कामयाबी मिल पाएगी यह आने वाला समय ही बताएगा। लेकिन कांग्रेस राहुल गांधी की मंशा के मुताबिक उत्तर प्रदेश में चुनावों में पूरी ताकत झोंक दी नज़र आने लगी है।

Share it
Top