J & K में निकाय चुनाव आतंकियों का साया, 18 प्रत्याशी पीछे हटे

J & K में निकाय चुनाव आतंकियों का साया, 18 प्रत्याशी पीछे हटे

श्रीनगर। राज्य में निकाय चुनाव के पहले चरण के तहत आठ अक्टूबर को होने जा रहे मतदान से तीन दिन पहले शुक्रवार को नेशनल कांफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की हत्या का कश्मीर में असर नजर आने लगा है। इस हमले के कुछ ही देर बाद वादी के विभिन्न हिस्सों से छह और प्रत्याशियों ने चुनाव प्रक्रिया से अपना नाम वापस ले लिया। कई उम्मीदवार चुनाव लड़ने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करने लगे हैं।


आतंकी संगठनों ने चुनाव बहिष्कार का फरमान सुनाते हुए प्रत्याशियों को नाम वापस न लेने पर मरने के लिए तैयार रहने की चेतावनी दे रखी है। आतंकियों के डर से पहले ही कश्मीर में कई वार्डों में उम्मीदवार नहीं मिल रहे हैं। जिन्होंने नामांकन जमा कराया, उनमें से भी करीब 12 लोगों ने बीते एक सप्ताह के दौरान अपने नामांकन वापस ले लिए हैं।

प्रशासन ने उम्मीदवारों की सुरक्षा यकीनी बनाने का पूरा प्रयास किया, लेकिन श्रीनगर में दो नेकां कार्यकर्ताओं की हत्या के चंद मिनटों बाद श्रीनगर नगर निगम में डलगेट की रहने वाली मुजम्मिल जान ने चुनाव से हटने का एलान करते हुए आधिकारिक तौर पर अपना नामांकन वापस ले लिया। वह श्रीनगर नगर निगम के वार्ड चार से बतौर निर्दलीय मैदान में थीं। इसके अलावा श्रीनगर नगर निगम के लिए भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे मेहराजुदीन ने भी माफी मांगते हुए चुनाव प्रक्रिया से हटने का एलान किया है। श्रीनगर के वार्ड 73 से चुनाव लड़ रही निर्दलीय उम्मीदवार शहजादा बेगम भी चुनाव प्रक्रिया से पीछे हट गईं। इसके अलावा पट्टन में दो और दक्षिण कश्मीर के आंचीडूरा से भी एक उम्मीदवार ने अपना नाम वापस ले लिया है।

8-16 अक्टूबर तक चुनाव

गौरतलब है कि 74 वार्डों पर आधारित श्रीनगर नगर निगम में चुनाव प्रक्रिया चार चरणों में आठ अक्तूबर से 16 अक्तूबर तक चलेगी। अलगाववादियों ने इन चुनावों का बहिष्कार करने का आह्वान किया है। आतंकी संगठनों ने भी चुनाव बहिष्कार का समर्थन करते हुए लोगों से कहा कि यह चुनाव कश्मीर में जारी जिहाद के खिलाफ है। इनमें भाग लेने वाला इस्लाम और कश्मीर का दुश्मन है।

आतंकियों की धमकियों, अलगाववादियों चुनाव बहिष्कार और नेशनल कांफ्रेंस व पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी जैसे प्रमुख राजनीतिक दलों द्वारा चुनाव प्रक्रिया से हटने के बावजूद श्रीनगर नगर निगम में 216 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन जमा कराया है। अधिकांश सीटों पर त्रिकोणीय और बहुकोणीय मुकाबला है और सभी प्रत्याशी मतदाताओं को रिझाने के अपने प्रचार में जुटे हैं। हालांकि आतंकियों के खौफ से अब प्रत्याशी भी पीछे हटने को मजबूर हो रहे हैं।



Share it
Top