महिलाएं इंटरकोर्स के बजाय आखिर क्यों देती है कडलिंग पर ज़ोर

महिलाएं इंटरकोर्स के बजाय आखिर क्यों देती है कडलिंग पर ज़ोर

नई दिल्ली :महिलाओं को आखिर कडलिंग क्यों अच्छी लगती है? एक तरफ जहां पुरुषों की बात करें तो वो इंटरकोर्स को प्राथमिकता देते हैं तो वहीं दूसरी तरफ महिलाओं को लंबे समय तक कडलिंग करने में ही मज़ा आता है। उन्हें प्यार के एहसास के साथ कोज़ी फील करना अच्छा लगता है। लेकिन ऐसा क्यों? लेकिन व्यक्ति के जीवन में हर एक क्रिया या उसके उद्देश्य के पीछे कोई ना कोई साइंटिफिक कारण होता है। हम उस कार्य को करने के लिए आतुर रहते हैं जिसे करने में आनंद मिलता हो और इस सुख की अनुभूति तब होती है जब मस्तिष्क में कुछ निश्चित केमिकल का स्राव होता है।

यदि वैज्ञानिक कारणों को फ़िलहाल के लिए अलग कर दिया जाए तो दूसरे कई रोमांटिक कारण हैं जिनकी वजह से महिलाओं को कडलिंग अच्छी लगती है। बस कुछ देर की कडलिंग आपके रिश्ते को कई गुणा बेहतर बना सकती है। रिलेशनशिप के लंबे सफर में ये छोटे और प्यार भरे लम्हे आप दोनों के रिश्ते को मज़बूती देते हैं। इस आर्टिकल के ज़रिए जानने का प्रयास करते हैं कि क्यों महिलाओं को कडलिंग अच्छी लगती है।



होता है प्यार का एहसास

कडलिंग के दौरान आपकी पार्टनर आपके प्यार और केयर को समझ पाती है। आप दोनों के शरीर के स्पर्श से निकलने वाली गर्माहट उन्हें सहज महसूस कराती है।

खुद के आकर्षक होने का होता है एहसास



कोई भी महिला उस वक़्त बहुत अच्छा महसूस करती है जब उसे लगता है कि वो आकर्षक लग रही है और कडलिंग उन्हें यही फील करवाता है। जब आप जुनून के साथ उन्हें अपनी बांहों में लेते हैं उस वक़्त उन्हें अपनी खूबसूरती पर नाज़ होता है।

ऑक्सीटोसिन करता है रिलीज़

ये वैज्ञानिक कारण है। जब महिलाओं को कडल किया जाता है तब उन्हें बहुत अच्छा लगता है और उस वक़्त उनके मस्तिष्क में फील-गुड केमिकल रिलीज़ होते हैं।

इंटरकोर्स के बाद



आमतौर पर इंटरकोर्स खत्म करने के बाद पुरुष सो जाते हैं, उनका ऐसा करना महिलाओं को बिल्कुल पसंद नहीं आता है। मगर वहीं, जब इंटरकोर्स के बाद मर्द अपनी पार्टनर को कडल करते हैं तो ये महिलाओं को ये एहसास कराता है कि उनका पार्टनर उनके कम्फर्ट का भी उतना ही ख्याल रखता है जितना वो रखती हैं।

तनाव से देता है राहत



कडलिंग के दौरान महिला दुनिया भर की बातें भूल कर अपने पार्टनर के आगोश में रिलैक्स महसूस करती है। उसके लिए वो एक तनावरहित पल होता है।

अंतरंगता और भरोसा

कडलिंग कपल के बीच में इंटिमेसी बढ़ाता है और महिला को एक भरोसा देता है। इन्हीं सब कारणों की वजह से औरतों को इंटरकोर्स के बजाय कडलिंग करना ज़्यादा अच्छा लगता है।

Share it
Top