हवाई जहाज में दबाव बढ़ने से बढ़ी समस्या,यात्रियों की नाक से बहने लगा खून, स्टॉफ के हाथ-पांव फूले

हवाई जहाज में दबाव बढ़ने से बढ़ी समस्या,यात्रियों की नाक से बहने लगा खून, स्टॉफ के हाथ-पांव फूले

नई दिल्ली : विमान में 185 यात्री सवार थे. एयर इंडिया एक्सप्रेस के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि 'विमान में दबाव संबंधी समस्या आने के बाद उसे बे में वापस ले जाया गया.' इस समस्या के कारण चार यात्रियों की नाक से खून निकलने लगा.

मस्कट से कालीकट जा रहे एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमान में रविवार को दबाव की समस्या के कारण चार यात्रियों की नाक से खून निकलने लगा. विमानन कंपनी ने यह जानकारी दी. विमान के मस्कट हवाईअड्डे से उड़ान भरने के तुरंत बाद यात्रियों की नाक से खून निकलने लगा. विमान में 185 यात्री सवार थे. एयर इंडिया एक्सप्रेस के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि 'विमान में दबाव संबंधी समस्या आने के बाद उसे बे में वापस ले जाया गया.' इस समस्या के कारण चार यात्रियों की नाक से खून निकलने लगा.

बयान में कहा गया है कि हवाईअड्डे पर चिकित्सक ने उनका उपचार किया और उन्हें यात्रा के लिए स्वस्थ घोषित किया. कुछ अन्य यात्रियों को असहजता महसूस हुई और कान में दर्द की शिकायत हुई. विमान के नीचे उतरने के बाद वे भी स्वस्थ महसूस करने लगे. उड़ान संख्या आईएक्स-350 में 185 यात्री सवार थे जिनमें तीन शिशु थे. यह बोइंग 737-8 का विमान था.

मालूम हो कि गर्मी और हवा का दबाव घटने पर नाक में मौजूद खून की नलियां फैल जाती हैं. इन दो कारकों से नाक की झिल्‍ली शुष्क होकर खून के बहाव और संक्रमण के प्रति अतिसंवेदनशील हो जाती हैं. नाक से खून आने की समस्‍या को रोकने के लिए गर्मी से दूर रहें. ड्राई हीट कम होने से नकसीर की आशंका को कम किया जा सकता है. इसके अलावा, नाक को सूखेपन से बचाने के लिए हाइड्रेटेड रहने और पर्याप्‍त मात्रा में तरल पदार्थ पीने की जरूरत होती है.


Share it
Top