किशमिश खाएं, खून की कमी की समस्या दूर भगाएं

किशमिश खाएं, खून की कमी की समस्या दूर भगाएं

रोज सुबह 5 किशमिश खाएं

खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम होना शरीर के लिए ठीक नहीं है। इसीलिए डेंगू, मलेरिया, टायफॉइड जैसी बीमारियों के कारण जब मरीज के शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम होती है तो डॉक्टर तुरंत प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले आहार खाने की सलाह देते हैं। किशमिश एक ऐसा आहार है, जिसमें ढेर सारे पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं और ये तत्व आपके शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। आयुर्वेदाचार्य डॉ. ए के मिश्र कहते हैं, रोज सुबह 5 किशमिश खाएं। इससे खून की कमी दूर होगी और आप सेहतमंद रहेंगे।

इतना होनी चाहिए प्लेटलेट्स

शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम होने की स्थिति को थ्रोम्बोसाइटोपीनिया के नाम से जाना जाता है। एक स्वस्थ व्यक्ति के खून में सामान्य प्लेटलेट काउंट डेढ़ लाख (1,50,000) से साढ़े चार लाख (4,50,000) प्रति माइक्रोलीटर होता है। लेकिन जब यह काउंट डेढ़ लाख प्रति माइक्रोलीटर से नीचे चला जाए तो इसे लो प्लेटलेट माना जाता है। कुछ खास तरह की दवाओं, आनुवंशिक रोगों, कुछ खास तरह के कैंसर, कीमोथेरेपी ट्रीटमेंट, अधिक ऐल्कॉहॉल के सेवन व कुछ खास तरह के बुखार जैसे डेंगू, मलेरिया व चिकनगुनिया के होने पर भी खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो जाती है।

बढ़ाती है प्लेटलेट्स

किशमिश में आयरन की मात्रा भरपूर होती है इसलिए ये शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या को बढ़ाती है और शरीर को मजबूत बनाती है। किशमिश को आप स्नैक के रूप में, सब्जी, आइसक्रीम, फ्रूट, सलाद या ओट्स के साथ आसानी से खा सकते हैं। इसके अलावा किशमिश को दही और दलिया के साथ भी खा सकते हैं। इसके अलावा किशमिश में ग्लूकोज, फ्रक्टोज होता है जिससे एनर्जी लेवल बढ़ता है और कमजोरी दूर होती है।

किशमिश में कई पोषक तत्व

100 ग्राम किशमिश से आपको ढेर सारे पोषक तत्व मिल जाएंगे

कैलरी- 299

सैच्युरेटेड फैट- 0.1 ग्रा

अनसैच्युरेटेड फैट- 0 ग्रा

मोनोसैच्युरेटेड फेट- 0.1 ग्रा

कोलेस्ट्रॉल- 0 मिग्रा

सोडियम- 11 मिग्रा

पोटैशियम- 749 मिग्रा

कार्बोहाइड्रेट- 79 ग्रा

डाइट्री फाइबर- 3.7 ग्रा

शुगर- 59 ग्रा

प्रोटीन- 3.1 ग्रा

दूर होती है खून की कमी

किशमिश के पानी में आयरन, कॉपर और बी कॉम्प्लेक्स की भरपूर मात्रा होती है। ये खून की कमी दूर करके रेड ब्लड सेल्स को हेल्दी बनाता है, जो सीधे अनीमिया से लड़ने की शक्ति रखता है। नए ब्लड के गठन के लिए जरूरी विटमिन बी कॉम्प्लेक्स की जरूरत को भी किशमिश पूरा करती है। इसके अलावा किशमिश में मौजूद भरपूर मात्रा में कॉपर, लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मदद करता है।

आंखों के लिए भी फायदेमंद

किशमिश में विटमिन ए, ए-बीटा कैरोटीन और ए-कैरोटीनॉइड होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक होता है। इसमें एंटी ऑक्सिडेंट गुण होते हैं जो आंखों को फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद करता है। किशमिश खाने से उम्र बढ़ने की वजह से आंखों की कमजोरी, मसल्स डैमेज, मोतियाबिंद आदि नहीं होता।

Share it
Top