सड़क निर्माण कार्य में लगे दो नाबालिग की मौत

सड़क निर्माण कार्य में लगे दो नाबालिग की मौत

छत्तीसगढ़ : सुकमा जिले में बाल मजदूरी कर रहे दो बाल श्रमिकों की बीते रात मौत हो गई। मामला कुरती स्थित ठेकेदार के प्लांट में बाल श्रमिक काम कर रहे थे। मिली जानकारी के मुताबिक दोनों बाल श्रमिकों की देर रात अचानक तबियत खराब हो गई। जिसके कारण दोनों बाल श्रमिकों की प्लांट में मौत हो गई। हालांकि मौत के कारण का पता नहीं चल पाया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में ले लिया है।


सरकार जहां बाल श्रमिकों पर प्रतिंबध लगा रही है। वहीं ठेकेदार कानून की धज्जियां उड़ाते हुए कम दाम में बाल श्रमिकों से मजदूरी करा रहे है। बाल श्रमिकों की मौत के बाद प्लांट में हंगामा कर रहे श्रमिकों के द्वारा पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंच कर शव को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां दोनों का पोस्ट मार्टम कर परिजनों को सौंप दिया है। वहीं प्लांट में काम कर रहे श्रमिकों का कहना है कि दोनों बाल श्रमिकों के तबियत बिगड़ने की सूचना ठेकेदार को दी गई, मगर ठेकेदार के द्वारा ध्यान नहीं दिया गया। यदि फौरन ही स्वास्थ्य केन्द्र तक पहुंचा दिया जाता तो, जान बचाई जा सकता थी।

एनएच 30 में चल रहे काम की निगरानी और जांच में जाने वाले अधिकारियों के द्वारा लापवाही का मामला सामने आया है। वहीं प्लांट नें काम कर रहे श्रमिकों ने बताया कि जांच के लिए आने वाले अधिकारियों के सामने बाल श्रमिक काम कर रहे थे। जिसके बाद भी अधिकारियों के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। मासूम के मौत का जिम्मेदार कौन ?


Share it
Top