CISF कैंप से गायब AK 47 हथियार व गोलियों को जवान ने ही चुराया, नक्सलियों को बेचने का था फिराक

CISF कैंप से गायब AK 47 हथियार व गोलियों को जवान ने ही चुराया, नक्सलियों को बेचने का था फिराक

दन्तेवाड़ा : बचेली सीआईएसएफ कैम्प से AK47 हथियार और 30 राउंड गोली 24 घण्टे जांच के बाद पुलिस ने गुत्थी सुलझा ली है। लंबी पड़ताल के बाद पुलिस अधिकारियों को गायब हथियार का बिलासपुर में छिपाने का सुराग लगा। तमिलनाडु के जवान ने हथियार गायब किया था।

हथियार बरामद होने की पुष्टि करते हुए दन्तेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने पूरे मामले का प्रेस कॉन्फ्रेंस में खुलासा करने की बात कही है। जानकारी के अनुसार, हथियार लेकर कैम्प में तमिलनाडु के जवान पंडी सवर्णजी नामक तमिलनाडु के जवान ने चोरी की थी। जिसका बैच नम्बर 120708435 है। जवान बचेली में 13 सितंबर 2016 से पदस्थ है।

बताते हैं कि खबर पाकर भिलाई से फोर्स के आईजी, डीआईजी और एसपी यहां पहुंचे। जवानों को छुट्‌टी से वापस बुलाया गया। कड़ाई से पूछताछ में जवान ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसे लेकर फोर्स की टीम रवाना हो गई है।

इससे पहले एके 47 व गोलियां गायब होने की खबर ने अफसरों में हड़कंप मचा दिया। हथियार गायब होने के 24 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं मिल पाया था । एके 47 गायब कल हुई थी मगर इसका खुलासा आज हो पाया। सीआईएसएफ के अधिकारी और जिला पुलिस बल के अधिकारी मौके का मुआयना और घटना के तरीके का पता लगाने की कोशिश कर रहे थे। अभी बीते कुछ महीने पहले कसौली कैम्प से भी इसी तरह हथियार कैम्प से गायब होने का मामला आया था। जिसमें कसौली से जवान राजू ने हथियारों का नक्सलियों से सौदा कर बेचने की तैयारी कर ली थी। बाद में पुलिस ने पूरे मामले का पर्दाफाश कर 2 एसएलआर हथियार और राउंड बरामद कर आरोपी जवान को जेल भेज दिया था। इसीलिए अधिकारी पूरे मामले की बारीकी से हर पहलू को देखते हुए पड़ताल कर रहे है। सीआईएसफ कैम्प से एक नग एके 47 और इसके 30 राउंड गायब होने की पुष्टि एडिशनल एसपी जीएन बघेल ने की थी।


Share it
Top