छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद जोगी कांग्रेस का पहला प्रदर्शन

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद जोगी कांग्रेस का पहला प्रदर्शन

रायपुर। जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा सरकार के खिलाफ वादा स्मरण पत्र कलेक्टर को सौंपे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा किये गए विभिन्न घोषणा को याद दिलाने के लिए आज जकांछ के कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर का घेराव किया हैं। लगभग 500 से ज्यादा की संख्या में लोगो ने कलेक्टर को घेरा। जिसमें मुख्यमंत्री को विभिन्न जन घोषणा याद दिलाया ।

वीडियो यहाँ देखे:-



घोषणा की मांग इस प्रकार है-

नजूल घास गैर आबादी सरकारी जमीन में काबिज लोगों को यथाशीघ्र स्थाई पट्टा प्रदान करें।

चिटफंड कंपनी में डूबे हितग्राहियों का पूरा पैसा सरकार वापस करें।

नगर निगम द्वारा वसूले जा रहे भारी भरकम संपत्ति टैक्स आधा करें।

सभी बेरोजगारों को सरकारी नौकरी दें लेकिन जब तक नौकरी नहीं दे सकेंगे तब तक 25 सौ प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देना प्रारंभ करें।

बुजुर्गों दिव्यांगों परित्यक्ता और विधवा बहनों को 15 सो रुपए प्रतिमाह पेंशन देना प्रारंभ करें।

गरीब हो या अमीर सबको 35 किलो चावल तेल दाल नमक चीनी मिट्टी का तेल देना प्रारंभ करें।

महिला स्व सहायता समूह का कर्जा माफ करें।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका मितानिन बहने और दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमित करें।

किसान भाइयों का संपूर्ण कर्जा माफ करे नो ड्यूज सर्टिफिकेट प्रदान करें।

छत्तीसगढ़ में अविलंब पूर्ण शराब बंदी लागू कर छत्तीसगढ़ की जनता और महिलाओं की इच्छा का सम्मान करें।

ग्रामीण विधान सभा के मतदाताओं ने कहा की कांग्रेस सरकार ने अपने जन घोषणा पत्र जारी कर छत्तीसगढ़ के जनता से कुल 35 वायदे लिखित में किए थे जिनमें से उपरोक्त 11 वादों को 10 दिन के भीतर पूरा करने का वायदा प्रत्येक मतदाताओं से किया गया था शेष 23 वादों को 5 साल के कार्यकाल अवधि में सुविधा अनुसार पूरा करने का संकल्प भी हाथ में गंगा जल लेकर लोगों के वचन लोगों को वचन दिया गया था।

Share it
Top