SUNSTAR TV

भाजपा सरकार ने शुरू की ईमानदारी से नौकरी देने की संस्कृति: राव नरबीर बच्चे देश का भविष्य, इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी: उपायुक्त चरखी दादरी की विनेश फौगाट ने किया टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई, अब गोल्ड पर निशाना शिरोमणि अकाली दल ने हरियाणा में ठोकी चुनावी ताल, 22 सितंबर को होगी उम्मीदवारों की स्क्रिनिंग दुलर्भ डाक टिकटों की प्रदर्शनी देखने उमड़ी भीड़ नामांकन पत्र में प्रत्याशी द्वारा सही, सच व पूरी जानकारी होनी चाहिए: एसडीएम टोक्यो ओलंपिक क्वालीफाई करने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दी विनेश को बधाई, कहा, खेल रहा हरियाणा खिल रहा हरियाणा शाबास करनाल पुलिस: पुलिस ने चोरों के बड़े नेटवर्क को तोड़ा, 9 चोर गिरफ्तार, 40 चोरियों का हुआ खुलासा मनोहर सरकार ने पूरे किए युवाओं के सपने: एमएलए जसबीर देशवाल विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन ने कसी कमर, तैयारियां हुई पूरी मृदा हेल्थ कार्ड से किसान फ्री में करवा सकते हैं मिट्टी और पानी की जांच झज्जर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ के बाद तीन बदमाश ​गिरफ्तार नगरीय निकाय चुनाव प्रक्रिया की लाटरी निकाली गई, रायपुर समेत 5 निगमों में आरक्षण लागू नहीं विपक्षी दलो को ढूंढने पर भी नही मिल रहे उम्मीदवार डा कमल गुप्ता महाजनसम्पर्क अभियान के तहत भाजपा की विकासात्मक नीतियों को किया साझा यमुनानगर के सरकारी अस्पताल में नीकू वार्ड शुरू, कम वजन वाले न्यू बोर्न बच्चों को मिलेगी फ्री सुविधाएं कांग्रेस में हुड्डा-शैलजा की जोड़ी सिर्फ दिखावटी, ये एक दुसरे को करेंगे प्रयास दिग्विजय चौटाला अनुशासनहीनता के चलते उमेद लोहान जेजेपी से निष्कासित दुर्गा शक्ति एप: हरियाणा पुलिस को एक और सम्मान बीएसपी मुखिया मायावती का कांग्रेस पर हमला जारी

एफडी से ज्‍यादा फायदे का सौदा है पीपीएफ में निवेश

Monika Wagh 13-08-2019 13:26:38



नई दिल्‍ली। फरवरी से लेकर अगस्‍त तक भारतीय रिजर्व बैंक रेपो रेट में 1.10 फीसद की कटौती कर चुका है। अब बैंकों पर न सिर्फ लोन की ब्‍याज दरें कम करने का दबाव है बल्कि डिपॉजिट रेट भी घटने शुरू हो गए हैं। बैंक और पोस्‍ट ऑफिस के पारंपरिक फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट, रैकरिंग डिपॉजिट या अन्‍य बचत योजनाओं कही तुलना में पब्लिक प्रोविडेंट फंड आज की तारीख में ज्‍यादा आकर्षक बन गया है। पीपीएफ नौकरीपेशा और मध्‍य वर्गीय लोगों के निवेश का पसंदीदा जरिया है। इसकी वजह भी है। इसमें निवेश कर आप इनकम टैक्‍स बचा सकते हैं, इसके ब्‍याज पर टैक्‍स नहीं लगता और मैच्‍योरिटी पर मिलने वाला रिटर्न भी टैक्‍स फ्री होता है। 

पीपीएफ और एफडी की ब्‍याज दरें 

पीपीएफ की ब्‍याज दरें अभी आकर्षक हैं, हालांकि जब बैंक रेपो रेट में कटौती को जमा दरों पर प्रभावी करेंगे तो यह और ज्‍यादा फायदे का सौदा बन जाएगा। जुलाई से सितंबर 2019 की तिमाही के लिए पीपीएफ की ब्‍याज दरें 7.9 फीसद हैं। दूसरी तरफ, एसबीआई, पीएनबी, बैंक ऑफ बड़ौदा, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 7.5 फीसद तक के ब्‍याज की पेशकश कर रहे हैं। अभी इनमें और कटौती हो सकती है। आपको बता दें कि जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए सरकार ने लघु बचत योजनाओं की ब्‍याज दरों में 0.1 फीसद की कटौती की थी। 

लघु बचत योजनाओं की ब्‍याज दरें

सीनियर सिटिजन सेविंग्‍स स्‍कीम और सुकन्‍या समृद्धि योजना पर मिलने वाली मौजूदा ब्‍याज दरें कमश: 8.6 फीसद और 8.4 फीसद हैं। पीपीएफ और एनएससी पर 7.9 फीसद का ब्‍याज मिल रहा है। वहीं, 1 से तीन साल के पोस्‍ट ऑफिस फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 6.9 फीसद और 5 साल के एफडी पर 7.7 फीसद का ब्‍याज मिल रहा है। रैकरिंग डिपॉजिट की ब्‍याज दरें फिलहाल 7.2 फीसद हैं। 113 महीने वाले किसान विकास पत्र पर 7.6 फीसद का ब्‍याज मिल रहा है। 

बैंकों के एफडी की तुलना में आकर्षक हैं पीपीएफ

अगर आप बैंकों के एफडी से पीपीएफ की तुलना करते हैं तो पीपीएफ फायदे का सौदा साबित होगा। यह न सिर्फ बैंकों के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट कह तुलना में ज्‍यादा ब्‍याज अर्जित करेगा बल्कि आयकर बचाने में भी मददगार साबित होगा। पीपीएफ में निवेश कर आप आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर कटौती का लाभ उठा सकते हैं। 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :