SUNSTAR TV

भाजपा सरकार ने शुरू की ईमानदारी से नौकरी देने की संस्कृति: राव नरबीर बच्चे देश का भविष्य, इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी: उपायुक्त चरखी दादरी की विनेश फौगाट ने किया टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई, अब गोल्ड पर निशाना शिरोमणि अकाली दल ने हरियाणा में ठोकी चुनावी ताल, 22 सितंबर को होगी उम्मीदवारों की स्क्रिनिंग दुलर्भ डाक टिकटों की प्रदर्शनी देखने उमड़ी भीड़ नामांकन पत्र में प्रत्याशी द्वारा सही, सच व पूरी जानकारी होनी चाहिए: एसडीएम टोक्यो ओलंपिक क्वालीफाई करने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दी विनेश को बधाई, कहा, खेल रहा हरियाणा खिल रहा हरियाणा शाबास करनाल पुलिस: पुलिस ने चोरों के बड़े नेटवर्क को तोड़ा, 9 चोर गिरफ्तार, 40 चोरियों का हुआ खुलासा मनोहर सरकार ने पूरे किए युवाओं के सपने: एमएलए जसबीर देशवाल विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन ने कसी कमर, तैयारियां हुई पूरी मृदा हेल्थ कार्ड से किसान फ्री में करवा सकते हैं मिट्टी और पानी की जांच झज्जर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ के बाद तीन बदमाश ​गिरफ्तार नगरीय निकाय चुनाव प्रक्रिया की लाटरी निकाली गई, रायपुर समेत 5 निगमों में आरक्षण लागू नहीं विपक्षी दलो को ढूंढने पर भी नही मिल रहे उम्मीदवार डा कमल गुप्ता महाजनसम्पर्क अभियान के तहत भाजपा की विकासात्मक नीतियों को किया साझा यमुनानगर के सरकारी अस्पताल में नीकू वार्ड शुरू, कम वजन वाले न्यू बोर्न बच्चों को मिलेगी फ्री सुविधाएं कांग्रेस में हुड्डा-शैलजा की जोड़ी सिर्फ दिखावटी, ये एक दुसरे को करेंगे प्रयास दिग्विजय चौटाला अनुशासनहीनता के चलते उमेद लोहान जेजेपी से निष्कासित दुर्गा शक्ति एप: हरियाणा पुलिस को एक और सम्मान बीएसपी मुखिया मायावती का कांग्रेस पर हमला जारी

गुरू नानक देव जी एक महान संत व समाज सुधारक थे : के पी सिंह

Som Dewangan 02-09-2019 17:36:37



हिसार। चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के इंदिरा गांधी सभागार में गुरूनानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य पर किसान संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में प्रदेश भर से आए 1500 के लगभग किसान शामिल हुए। मुख्य अतिथि के रूप में चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. के.पी. सिंह ने दीप प्रज्जवलित कर किसान संगोष्ठी का शुभारंभ किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. रमेश यादव, अध्यक्ष हरियाणा किसान आयोग ने की। विशिष्ठ अतिथियों के रूप में डॉ. अर्जुन सिंह सैनी, महानिदेशक, उद्यान विभाग, डॉ. सुरेश गहलवात, अतिरिक्त निदेशक, कृषि विभाग, डॉ. जोगेन्द्र घनघस, सयुक्त निदेशक, उद्यान विभाग मंच पर उपस्थित थे।

कृषि के क्षेत्र में विशेषज्ञों के साथ साथ किसानों का भी भरपूर योगदान

कुलपति प्रो. के.पी. सिंह ने कहा कि गुरू नानक देव जी एक महान संत व समाज सुधारक थे। उन्होंने जात-पात व आडंबरो का विरोध कर लोगों में भाईचारा व प्रेम कायम किया। उनके द्वारा शुरू की गई लंगर सेवा में सभी लोग एक समान थे। यही नहीं गुरू नानक देव जी, स्वयं गरीब, भूखे अहसाय लोगों की मदद के लिए हमेंशा तत्पर रहते थे और दूसरों को भी यह कार्य करने का संदेश देते थे। आज हर्ष का विषय है कि उनके प्रकाशोत्सव पर कृषि विश्वविद्यालय में किसान संगोष्ठी का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि कृषि के क्षेत्र में विशेषज्ञों के साथ साथ किसानों का भी भरपूर योगदान है।

हरियाणा किसान आयोग के अध्यक्ष डॉ. रमेश यादव, ने इस मौके पर किसानों को संबोधित करते हुए ने कहा कि सरकार का लक्ष्य 2022 तक किसानों की आय को दोगुणा करना है। उन्होंने कहा कि दिल्ली हरियाणा प्रदेश के निकट है, इसलिए किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए इसका भरपूर लाभ उठाना चाहिए। डॉ. यादव ने कहा कि जल संरक्षण को लेकर केन्द्र व प्रदेश सरकार गंभीर है। इसी के मद्देनजर जल संरक्षण की भूमिका में रेवाड़ी जिले ने प्रथम स्थान हासिल किया है। उन्होंने किसानों को कहा कि पानी की बचत एवं अधिक पैदावार लेने के लिए सुक्ष्म सिंचाई प्रणाली को अपनाना चाहिए।

किसान मिश्रित खेती कर बढ़ा सकते है आमदनी

डॉ. सुरेश गहलवात, अतिरिक्त निदेशक, कृषि विभाग ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों को कहा कि उन्हें धान, गेंहू के अलावा मिश्रित खेती करनी चाहिए ताकि उनकी आमदनी में इजाफा हो सके। उन्होंने कहा कि किसान को खेती के साथ साथ पशुपालन व्यवसाय भी करना चाहिए। इसके अलावा फसल की लागत को कम करने के लिए किसान को डायरेक्ट मार्केटिंग करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वेल्यू एडीशन पैकेजिंग ब्रंाडिंग एग्रीसर्विस व एकीक्रित खेती से किसान अपनी आय को बढ़ा सकते हैं।

मछली पालन भी किसानों को दे सकती है अच्छा मुनाफा

ईश्वर सिंह मछली पालन विभाग, हरियाणा ने किसानों को कहा कि मछली पालन कर किसान अच्छी आमदनी ले सकते है। विभाग तालाब बनाने व मछली के बीज के लिए किसानों की मदद भी करता है। छोटा किसान या भूमिहीन किसान भी यह कार्य कर सकता है। मछलियों की विभिन्न प्रकार प्रजातियों की मंाग पहले से अधिक बढ़ी है। कोई भी व्यक्ति गांव में तालाब बनाकर यह पटृटे पर लेकर यह कार्य आसनी से कर सकता है। इसके लिए मछली विभाग किसानों एवं बेरोजागार लोगों को निशुल्क प्रशिक्षण भी उपलब्ध करवाता है। उन्होंने कहा कि समय के साथ साथ इस ओर लोगों का रूझान पहले से कही अधिक बढ़ा है। ऐसे बहुत से बेरोजागर व छोटे किसान है जो मछली पालन से आज बढिया लाभ ले रहे हैं।

बागवानी योजनाओं बारे किसानों को अवगत कराया

विभाग के डॉ. पवन कुमार, उपनिदेशक ने प्रदेश से आए किसानों को बागवानी के सेंटरों व उन पर दी जाने वाली सुविधाओं बारे बताया। उन्होंने किसानों को बागवानी फसलों, सूक्ष्म सिंचाई पर विभाग द्वारा जारी नई योजानाओं के बारे भी जानकारी दी। डॉ. कुमार ने कहा कि किसानों को अधिक से अधिक बागवानी फसलों की खेती करनी चाहिए। इसके लिए विभाग किसानों को हर प्रकार की मदद उपलब्ध करवा रहा है।

लघु कृषक व्यापार संघ से जुड़े किसान

डॉ. परस राम शर्मा, उद्यान निदेशालय, पंचकूला ने किसानों को लघु कृषक व्यापार संघ बारे विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि कैसे किसान संगठन बनाकर खेती में अच्छा लाभ ले सकते हैं। उन्होंने एफ.पी.ओ. की गाईड लाइन एवं इसकी पालिसी बारे भी किसानों को विस्तार से जानकारी दी कि कैसे किसान लघु कृषक व्यापार संघ के सदस्य बन सकते हैं। डॉ. शर्मा ने कहा कि अधिक से अधिक किसानों को ऐसे संगठनों से जुडकर खेती करनी चाहिए। इसके लिए विभाग रह संभव मदद इन किसान संघों को उपलब्ध करा रही है।

इस मौके पर डॉ. नीलम पटेल, आइएआरआई नई दिल्ली, ने भी अपने विचार किसानों के समक्ष प्रकट करे, इसके अलावा एचएयू के मनीषा मनी और शेलेन्द्र ने एबीक के बारे में विस्तृत जानकारी दी। कार्यक्रम का मंच संचालन रामफल चहल ने किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ. बीआर कंबोज, डॉ. महेन्द्र सिंह, डॉ. बिल्लु यादव, डॉ. आत्म प्रकाश उपनिदेशक, बागवानी विभाग व अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :