SUNSTAR TV

भाजपा सरकार ने शुरू की ईमानदारी से नौकरी देने की संस्कृति: राव नरबीर बच्चे देश का भविष्य, इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी: उपायुक्त चरखी दादरी की विनेश फौगाट ने किया टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई, अब गोल्ड पर निशाना शिरोमणि अकाली दल ने हरियाणा में ठोकी चुनावी ताल, 22 सितंबर को होगी उम्मीदवारों की स्क्रिनिंग दुलर्भ डाक टिकटों की प्रदर्शनी देखने उमड़ी भीड़ नामांकन पत्र में प्रत्याशी द्वारा सही, सच व पूरी जानकारी होनी चाहिए: एसडीएम टोक्यो ओलंपिक क्वालीफाई करने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दी विनेश को बधाई, कहा, खेल रहा हरियाणा खिल रहा हरियाणा शाबास करनाल पुलिस: पुलिस ने चोरों के बड़े नेटवर्क को तोड़ा, 9 चोर गिरफ्तार, 40 चोरियों का हुआ खुलासा मनोहर सरकार ने पूरे किए युवाओं के सपने: एमएलए जसबीर देशवाल विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन ने कसी कमर, तैयारियां हुई पूरी मृदा हेल्थ कार्ड से किसान फ्री में करवा सकते हैं मिट्टी और पानी की जांच झज्जर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ के बाद तीन बदमाश ​गिरफ्तार नगरीय निकाय चुनाव प्रक्रिया की लाटरी निकाली गई, रायपुर समेत 5 निगमों में आरक्षण लागू नहीं विपक्षी दलो को ढूंढने पर भी नही मिल रहे उम्मीदवार डा कमल गुप्ता महाजनसम्पर्क अभियान के तहत भाजपा की विकासात्मक नीतियों को किया साझा यमुनानगर के सरकारी अस्पताल में नीकू वार्ड शुरू, कम वजन वाले न्यू बोर्न बच्चों को मिलेगी फ्री सुविधाएं कांग्रेस में हुड्डा-शैलजा की जोड़ी सिर्फ दिखावटी, ये एक दुसरे को करेंगे प्रयास दिग्विजय चौटाला अनुशासनहीनता के चलते उमेद लोहान जेजेपी से निष्कासित दुर्गा शक्ति एप: हरियाणा पुलिस को एक और सम्मान बीएसपी मुखिया मायावती का कांग्रेस पर हमला जारी

ट्रैफिक रूल्स:जानिए नए नियमों के बारे में, किस गलती पर कितना लगेगा जुर्माना

Monika Wagh 25-06-2019 16:29:10



नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोमवार को मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक के मसौदे को मंजूरी दे दी। इस विधेयक में यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। विधेयक इससे पहले राज्यसभा में लंबित था और 16वीं लोकसभा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद यह निरस्त हो गया था। मोटर वाहन विधेयक को संसद के मौजूदा सत्र में पेश किया जा सकता है।

एक आधिकारिक सूत्र के मुताबिक विधेयक में एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड आदि जैसे आपातकालीन यानी इमर्जेन्सी वाहनों को रास्ता नहीं देने पर 10000 रुपए तक का जुर्माना लगाने का प्रावधान है। इसी तरह अयोग्य घोषित किए जाने के बावजूद वाहन चलाते रहने पर भी 10000 रुपये जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। बिल में ये प्रावधान 18 राज्यों के परिवहन मंत्रियों की सिफारिश पर किए गए हैं।

सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मोटर वाहन विधेयक के मसौदे को मंजूरी दे दी गई है। इसमें विभिन्न यातायात नियमों के उल्लंघन पर ऊंचे जुर्माने का प्रावधान किया गया है। 

डीएल नियमों के उल्लंघन पर टैक्सी एग्रीगेटर्स के लिए 1 लाख रुपए तक जुर्माना

विधेयक में सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में काफी सख्त प्रावधान रखे गये हैं। किशोर नाबालिगों द्वारा वाहन चलाना, बिना लाइसेंस, खतरनाक ढंग से वाहन चलाना, शराब पीकर गाड़ी चलाना, निर्धारित सीमा से तेज गाड़ी चलाना और निर्धारित मानकों से अधिक लोगों को बिठाकर अथवा अधिक माल लादकर गाड़ी चलाने जैसे नियमों के उल्लंघन पर कड़े जुर्माने का प्रावधान किया गया है। संशोधन विधेयक में आपातकालीन वाहनों को रास्ता नहीं देने पर दस हजार रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

इसी प्रकार अयोग्य करार दिये जाने के बावजूद वाहन चलाते रहने पर भी दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। ओला, उबर जैसे समूहकों द्वारा ड्राइविंग लाइसेंसों के नियमों का उल्लंघन करने पर विधेयक के प्रावधानों के अनुरूप एक लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। विधेयक में किये गये प्रावधान 18 राज्यों के परिवहन मंत्रियों की सिफारिशों पर आधारित हैं। इन सिफारिशों को संसद की स्थायी समिति ने भी जांच परख की है। 

किस गलती पर कितने जुर्माना का प्रस्ताव

विधेयक के मसौदे में तेज गाड़ी भगाने पर एक हजार से दो हजार रुपये तक का जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। बिना बीमा पॉलिसी के वाहन चलाने पर दो हजार रुपये तक का जुर्माना रखा गया है। बिना हेलमेट के वाहन चलाने पर एक हजार रुपये रुपये का जुर्माना और तीन माह के लिये लाइसेंस निलंबित किया जाना शामिल है। खतरनाक तरीके से ड्राइविंग पर जुर्माना 1000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया गया है, जबकि शराब पीकर गाड़ी चलाने पर नए कानून के तहत अब 10000 रुपये जुर्माना लगेगा। ओवरलोडिंग पर 20000 रुपये जुर्माना लगेगा, सीट बेल्ट न बांधने पर 1000 रुपये जुर्माना देना होगा।

नाबालिग ड्राइवर की गलती पर नपेंगे वाहन मालिक/अभिभावक

नए प्रावधानों के तहत किशोर नाबालिगों द्वारा गाड़ी चलाते हुए सड़क पर कोई अपराध करने की स्थिति में गाड़ी के मालिक अथवा अभिभावक को दोषी माना जाएगा और वाहन का रजिस्ट्रेशन भी निरस्त किया जाएगा। इसके अलावा वाहन मालिक अथवा अभिभावक को दोषी मानते हुए तीन साल की सजा के साथ ही 25 हजार रुपये तक का जुर्माना किया जाएगा। साथ ही वाहन का पंजीकरण भी निरस्त कर दिया जायेगा।

व्हीकल के अनाधिकृत इस्तेमाल पर 5000 रु जुर्माना

संशोधन विधेयक के मसौदे के अनुसार, यातायात नियमों का उल्लंघन होने पर न्यूनतम 100 रुपये के स्थान पर 500 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। अधिकारियों के आदेश का पालन नहीं करने पर 500 रुपये के स्थान पर अब 2000 रुपये का जुर्माना देना होगा। वाहन का अनाधिकृत इस्तेमाल करने पर 5000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है। बिना लाइसेंस के वाहन चलाने पर भी इतना ही जुर्माना देना होगा, जबकि अयोग्य करार दिए जाने के बावजूद वाहन चलाने पर दस हजार रुपये का जुर्मान देय होगा। अन्य नियमों के उल्लंघन पर भी कड़े जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :